लोग जब भी सड़क पर चल रहे होते हैं और उसी बीच अगर झुग्गी झोपड़ियों पर नज़र चली जाती है तो मन में कई तरह की बातें आने लगती है जैसे इतना छोटा घर ये सीधे कैसे खड़े पाते होंगे अंदर एक कमरे के घर में कितने लोग और कैसे […]