हमारे भारत में हर जाति-धर्म से जुड़े कई समुदायों के लोग रहते हैं और हर समुदाय के लोगों के अपने अलग-अलग रीति रिवाज और मान्यताएं होती हैं। यानी कि अगर देखा जाए तो भारत में जितने रीति-रिवाज और मान्यताएं हैं उतनी शायद ही किसी और देश में देखने को मिलेंगी। […]

आत्महत्या को लेकर हमारे देश में कई कानून बनाए गए हैं। कानूनी तौर पर खुदकुशी करना जुर्म माना जाता है। लेकिन जैन धर्म में एक ऐसी प्रथा का चलन हैं। जिसमें लोगों को उनकी मौत का हक दिया जाता है। उम्रदराज या किसी लाइलाज बीमारी से जूझ रहा इंसान चाहें […]

हमारा देश दुनिया का एक मात्र ऐसा देश है. जहां अनेकों विविधताओं के अलावा, अनेकों सभ्यताऐं फलती फूलती हैं. ऐसे में अनेकों मान्यताओं का होना लाजिमी है. ऐसी मान्यताऐं जिनके बारे में ज्यादातर स्थानिय लोग जानते हैं. इन मान्यताओं के पीछे कई दावे होते हैं. जो उन्हें हकीकत बनाते हैं. […]

होली आने को है। कई जगह होली के रंग दिखने लगे हैं तो, कई जगह दिखने को तैयार हैं. पूरे भारत में मनाए जाने वाली होली भारत के साथ-साथ श्रीलंका, नेपाल व मॉरिशस में भी मनाई जाती है। जहां दुनिया के तमाम हिस्सों में मनाई जाने वाले होली भारत की […]

‘लिव इन रिलेशनशिप’, अंग्रेजी का छोटा-सा वाक्य है, लेकिन हमारे सामाज में जैसे ही इसके बारे में लोग सुनते हैं यह छोटा सा वाक्य उनके गुस्से में उबाल का कारण बन जाता हैं। भारतीय संस्कृति पर हमला  सीधे ध्यान यहीं जाता है। भारतीय संस्कृति में ‘लिव इन रिलेशनशिप’ का कोई […]

मकर संक्रांति यानि की भगवान भास्कर का त्योहार, जो कि पूरे भारतवर्ष में और इससे बाहर के देशों में भी किसी न किसी रूप में मनाया जाता है। वैसे तो इसे हिन्दुओं का प्रमुख पर्व माना जाता है लेकिन दुनिया भर की ऐतिहासिक और प्राचीन परंपराओं में संक्रांति का यह […]

भारतीय संस्कृति में प्रकृति यानि मदर नेचर का सबसे ज्यादा महत्व है। यही कारण है कि, हिमालय से लेकर हिन्द महासागर तक के बीच बसे इस बड़े से भू—भाग में, जिसे हम भारत कहते हैं, हर एक त्योहार मदर नेचर को डेडिकेटेड है। अब 14 तारीख यानि कल के दिन […]

कई फिल्मों में आपने देखा होगा कि, कोई दर्द से कराह रहा होता है या ऐसी स्थिति में होता है कि, उसका जीना मरने से भी बदत्तर होता है तो, उसे दर्द से मुक्ति दे दी जाती है। मतलब उसे मार दिया जाता हैं। लेकिन क्या कोई इंसान अपने ही […]

भारत को लेकर अगर किसी से एक निगेटिव बात पूछी जाए तो जो सबसे पहला जवाब आता है वो है जातिवाद.. जातियों में बटां यहां का समाज और इस आधार पर इन समाजों में होने वाले मतभेद। वैसे अगर धर्मग्रंथों को पढ़ें तो हमे पता चलता है कि, भारत का […]

भारत, कल्चरर्स के फ्यूजन का एक अनोख रंग यहां देखने को मिलता है। परंपराएं और रीति-रिवाजों का जो भंडार यहां है वो शायद ही कहीं होगा। भारत के कल्चर में जन्म से लेकर मौत तक के लाइफ प्रोसेस को एक अलग ही रंग से सेलिब्रेट किया जाता है। यहां बच्चे […]