घूमने के लिए देश के अलग-अलग हिस्सों में बहुत सी जगहें हैं। इनमें से कई ऐसी जगहें हैं जो हमें आश्चर्य में डाल देती हैं। भारतीय इतिहास में सबसे अद्भुत चीज़ रही है यहां कि स्थापत्य कला जो युगों से पूरी दुनिया को अपनी ओर आकर्षित करती रहीं हैं। वैसे […]

मधुबनी पेंटिंग, बिहार और नेपाल के मिथिलांचल के इलाके की पहचान है। बिहार के दरभंगा, पूर्णिया, सहरसा, मुजफ्फरपुर, मधुबनी एवं नेपाल के कुछ हिस्सों में यह चित्रकला मुख्यरुप से विकसित हुई। पहले तो यह चित्रकला रंगोली के रूप में थी और ज्यादात्तर कच्चे मकानों पर बनाई जाती थीं लेकिन जैसे—जैसे […]

एक समय था, जब भारत गुलामी की जंजीरों में लिपटा पड़ा था। उस समय कहीं भी अगर किसी भी तरफ से आज़ादी की मांग उठती थी तो अंग्रेज भारत के सपूतों को फांसी पर लटका दिया करते थे। ऐसे न जानें कितने वीर सपूत हैं, जो हंसते हंसते फांसी के […]

घूमने का शौक है और साथ ही इतिहास को खंगालने में भी रूचि रखते हैं तो आपको घूमने के लिए एक बार बिहार तो जरूर आना चाहिए। यहां का भागलपुर शहर आपको एंसिएंट हिस्ट्री से लेकर मिडिवल हिस्ट्री तक के दर्शन सिलसिलेवार तरीके से करा देगा। बिहार का यह शहर […]

भारत का इतिहास गजब का रहा है। इस इतिहास को जानने और समझने में सबसे ज्यादा मदद अगर किसी चीज से मिलती है तो इतिहास के राजाओं के द्वारा बनवाए गए किलों और दुर्गो से। किलों की बनावट के कारण ही उस समय के राजाओं के रहन-सहन से लेकर उनकी […]

हर एक इंसान जानता है कि, हम सभी भारतीय हैं और हमारी सभ्यता और संस्कृति ऐसी है, जो भारत को दुनिया में सबसे अलग और बेहतर बनाती है. शायद यही वजह है कि, आज भी हमारी सभ्यता और संस्कृति पूरी दुनिया के लिए मिसाल बनी हुई है. लेकिन उसी भारत […]

भारत सिर्फ एक देश नहीं है बल्कि दुनिया की सबसे पुरानी और जीवित सभ्यता है। दुनिया की सारी सभ्यताएं एक—एक कर खत्म हो गईं लेकिन भारत की सभ्यता आज भी पांच हजार सालों से लगातार आगे बढ़ रही है। इसका सिर्फ एक कारण है और वो है यहां का ‘कंपोजिट […]

भगवान सूर्य, जिन्हें आदित्य के नाम से भी जाना जाता है। शास्त्रों में वर्णित देवों में से वे एकमात्र  देव हैं जिन्हें आम इंसान प्रत्यक्ष रूप से देख सकता है। सूर्य इस धरती के हर क्रिया-कलाप का हिस्सा है। बिना सूर्य के, उनकी रोशनी के हमारी धरती का लाइफ साइकल […]

मीडिया में इन दिनों एक मुद्दा बहुत गरमाया हुआ है। यह मुद्दा लोकसभा चुनावों से पहले हुई एक घटना से जुड़ा है और इससे जुड़े हैं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी। दरअसल लोकसभा चुनावों के वक्त भारत में बढ़ती असहिष्णुता को लेकर कई फिल्मी हस्तियों ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को एक खुला […]

एक बार शेक्सपियर ने कहा था, कि नाम में क्या रखा है। लेकिन अगर शेक्सपियर भारत में होते तो वो इसके उलट कहते कि नाम में बहुत कुछ रखा है। दरअसल, भारतीय संस्कृति में नामकरण संस्कार भी 16 संस्कारों में से एक माना जाता है। और सिर्फ इंसान ही नहीं […]