छोटू जरा एक कप चाय देना, छोटू यहाँ गंदगी है कपड़े से इस साफ करना. किसी भी दुकान, रेस्टोरेंट या ऐसी किसी भी जगह पर जाकर हमने इस तरह की लाईने न जाने कितनी ही बार बोली होंगी. हमारे आस-पास अनेकों जगह हमें छोटी उम्र के बच्चे काम करते दिखाई […]

पानी एक इंसान की खास जरुरतों में से एक है. बिना पानी इंसान तो क्या किसी भी जीवन की कल्पना तक नहीं की जा सकती. उसके बावजूद पानी को लेकर इंसान जितना लापरवाह और लचर है. उससे कल्पना की जा सकती है कि, भले ही अनेकों देश, राज्य, जगहों पानी […]

कोरोना वायरस की भयावहता से आज शायद ही कोई इंसान अंजान हो, पिछले महज़ एक महीने में पूरे देश ने इस महामारी का वो दौर देखा है. जो शायद ही आने वाली हमारी पीढ़ियां देख पाएं. अक्सर हमारे दादा दादी या फिर गाँव के बड़े बुजुर्ग हमें पहले के समय […]

दिल्ली.. जिसे देश का दिल और यहां रहने वाले लोगों को दिलवाले कहा जाता है। लेकिन अभी दो दिन पहले इसी दिलवाली दिल्ली में एक ऐसी घटना हुई जिसे देखने के बाद आपकी रूह कांप उठेगी। दरअसल, दिल्ली के बुद्ध विहार में बीते रविवार को 26 साल की एक महिला […]

एक बार फिर देशभर में कोरोना वायरस का खतरा बढ़ गया है। देश में इस वक़्त एक्टिव केस की संख्या एक लाख को भी पार कर गई है। कोरोना की दूसरी लहर इस बार बच्चों में ज्यादा तेजी से फैल रही है। हालांकि देशभर में टेस्टिंग हो रही हैं और […]

नक्सल, नक्सलवादी, नक्सलिज्म जब भी इन शब्दों का जिक्र कहीं भी होता है तो हमारी आंखों के सामने खून से सनी लाश, गोला-बारूद, कंधे पर बंदूक टांगे लोग आ जाते हैं. हो भी क्यों न, आज के इतने साल बाद भी हमने यही देखा है. आजादी के आज इतने साल […]

48वां ओवर और नुवान कुलासेकरा के हाथ में गेंद, चलिए हम आपको आज से ठीक दस साल पीछे ले चलते हैं. जहाँ मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में भारत और श्रीलंका के बीच World Cup Finale का मुकाबला हो रहा है. 48वां ओवर नुवान कुलासेकरा फेंक रहे हैं. भारत को 12 […]

हम जब भी धरती बचाने की बात पर जोर देते हैं तो, हम Global warning, Air Pollution, Noise Pollution के बारे में सोचना शुरू कर देते हैं. ऐसे में कई सारे प्रयास भी किए जाते हैं. हालांकि जिस तरह विकास की ओर अग्रसर दुनिया हर रोज एक ओर नए आयाम […]

इंसान अपनी जिंदगी को बेहतर बनाने की खातिर क्या-क्या कर सकता है? अगर आप ये सवाल किसी भी इंसान से करें तो सामान्यता उसका जवाब होगा की. अच्छी नौकरी हो, अच्छा पैसा हो, अच्छा परिवार हो तो इंसान एक बेहतर जिंदगी जी सकता है. ऐसे में क्या वाकई ऐसा होना […]

हत्या, अपहरण, लूट-पाट ऐसी घटनाऐं आज इतनी आम हो गई हैं कि, ये खबरें किसी भी न्यूज पेपर से लेकर किसी भी हिस्से में क्यों न चल रही हो, किसी को इससे फर्क नहीं पड़ता. हाँ मगर जब भी कहीं इस तरह की घटनाऐं होती हैं तो निश्चित ही किसी […]