#TeaLover आज के वक्त में ये हैशटैग लोगों की पहचान बनता जा रहा है. चाय प्रेमी होना भी मानों एक ट्रैंड बन गया है. जहां कुछ लोग केवल नाम के लिए चाय की चुस्कियां लेते थे आज वो भी खुदकों टी-लवर कहते हैं. और तो और अगर आप अपने ही […]

आजकल हाई ब्लड प्रेशर की समस्या आम हो गई है। सिर्फ ज़्यादा उम्र के लोग ही नहीं बल्कि आजकल कम उम्र में भी हाई ब्लड प्रेशर की समस्या देखी जा रही है। दरअसल जब शरीर की धमनियों में जो रक्त बहता है उसका दबाव बढ़ जाता है तो हाई ब्लड […]

होली का एक रंग ऐसा भी जहां अबीर गुलाल की जगह होती है चिता की भस्म और रंग की जगह ले लेती है राख ! काशी के श्मशान घाटों में चिता की भस्म से होली खेलने की परंपरा है। काशी मोक्ष की नगरी है इसलिए यहाँ तो मृत्यु भी एक […]

आजकल डायबिटीज के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है जो पूरी तरह से ठीक तो नहीं हो सकती मगर हाँ इसे अपनी डाईट में कंट्रोल कर के कंट्रोल में जरूर रखा जा सकता है। सबसे जरुरी बात तो ये है कि शरीर में ब्लड […]

मंदिर और गुरुद्वारा दोनों ही धर्मस्थलों पर पुरुष और महिलाएं दोनों ही जा सकते हैं। मगर मुस्लिम समुदाय में महिलाओं के मस्ज़िद में जाने पर पाबन्दी है। इसके पीछे मुस्लिम समुदाय के अलग-अलग वर्गों में प्रचलित अलग-अलग विश्वासों से जुड़ी कई वजहें हो सकती हैं। लेकिन अमरोहा की एक मस्जिद […]

हमारे देश में ज़्यादातर त्योहारों का संबंध ऋतुओं से होता है। दरअसल हिन्दू कैलेंडर के हिसाब से पूरे साल को छह महीनों में बांटा जाता है। उनमें से एक बसंत ऋतु है जो लोगों का सबसे पसंदीदा मौसम होता है। इस साल 2022 में बसंत पंचमी 5 फरवरी को है। […]

बसंत का नाम सुनकर ही मन मुस्कुराने लगता है। जिंदगी में कुछ नया करने की उमंग जगने लगती है। बसंत पंचमी से सर्दियां ख़त्म और वसंत ऋतु की शुरुवात हो जाती है। दरअसल हमारे देश में ज़्यादातर त्योहारों का संबंध ऋतुओं से होता है। कुछ ऐसा ही इस त्यौहार के […]

अनाथ होना क्या है ? बिना किसी अपने के साये के दर-दर की ठोकरे खाकर बड़ा होना क्या होता है? और अगर आपकी पैदाइश लड़की की हो तो क्या आसान है कोई महफ़ूज साया तलाश पाना.. खैर इन सवालों का जवाब शायद आपके या हमारे पास नहीं है, लेकिन कोई […]

आज राष्ट्रीय मतदाता दिवस है। ये तो हम सभी जानते है कि मतदान कितना जरुरी है एक सही सरकार को चुनने के लिए इसलिए राष्ट्रीय मतदाता दिवस की शुरुआत का मकसद भी ज्यादा से ज्यादा मतदाताओं का सूची में नाम जोड़ना, मतदान के लिए प्रेरित करना है। मगर आज इस […]

26 जनवरी यानी गणतंत्र दिवस.. जिसे भारत के हर घर में त्योहार की तरह मनाया जाता है. हिंदु-मुस्लिम, सिक्ख-ईसाई.. हर धर्म, हर जाति का व्यक्ति इस दिन खुशियां मनाता है क्योंकि साल 1950 में इसी दिन भारत का संविधान लागू किया गया था। इस दिन देशभर में राष्ट्रीय अवकाश रहता […]